सऊदी अरब और क़तर के बीच शुरू हुआ तनाव इस्लाम के पवित्र कर्म हज में भी नजर आ रहा है. इस वर्ष क़तर के नागरिकों के लिए हज़ अदा करना संभव नहीं हो सकता.

दरअसल, हज के लिए मक्का पहुंचे क़तर के नागरिकों के लिए सऊदी अरब ने ऐसे हालात पैदा कर दिए. जिसे उनके लिए हज़ करना मुमकिन नहीं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

क़तर के अक्वाफ और इस्लामी मामलों के मंत्रालय, ने कहा कि उसे कतरी हाजियों के लिए ट्रैवल लॉजिस्टिक्स या सुरक्षा गारंटी पर अपने सऊदी समकक्ष से प्रतिक्रिया नहीं मिली है.

आधिकारिक तौर पर कतर न्यूज एजेंसी ने मंगलवार को बताया कि कतर के धार्मिक अधिकारियों ने बताया “हज मंत्रालय से कोई सहयोग या सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं मिली है, जिससे कतर नागरिकों के लिए विनियामक प्रक्रिया का निलंबन हो गया है”

कतर के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के निदेशक साद सुल्तान अल-अब्दुल्ला ने चिंता व्यक्त की और कहा कि मुसलमानों को उनके धार्मिक कर्तव्य करने से रोका जा रहा है.

उन्होंने कहा, “अपने धार्मिक कर्तव्यों का पालन करने के लिए राजनीतिक विवादों और मुसलमानों के प्राकृतिक और मानवीय अधिकारों के बीच कोई मिश्रण नहीं होना चाहिए.” “राजनीति और मानवाधिकारों को अलग किया जाना चाहिए.”

Loading...