आस्ट्रेलिया जा रहे इस्राईल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नितेनयाहू के हवाई जहाज़ को इन्डोनेशिया ने अपनी सीमा से गुज़रने की अनुमति नहीं दी. जिसके बाद इस्राईली प्रधानमंत्री को अपने जहाज़ का रुख़ बदलना पड़ा.

गार्डियन समाचार पत्र की रिपोर्ट के अनुसार इन्डोनेशिया की सरकार ने सिंगापूर से आस्ट्रेलिया जा रहे नितेनयाहू के हवाई जहाज़ को अपनी हवाई सीमा से गुज़रने की अनुमति नहीं दी. जिसके बाद प्रधानमंत्री नितेनयाहू का हवाई जहाज़, इन्डोनेशिया की हवाई सीमा से नहीं गुज़र सका.

इंडोनेशिया के इस कदम के कारण सिंगापूर से नितनयाहू की यात्रा 11 घंटे लंबी हो गयी. वरना उन्हें आस्ट्रेलिया जाने में लगभग 8.5 घंटे लगते. इंडोनेशिया की सरकार द्वारा अनुमति न दिए जाने के बाद से 2.5 घंटा लंबी यात्रा तय करनी पड़ी. याद रहें इन्डोनेशिया के इस्राईल के साथ कूटनयिक संबंध नहीं हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इंडोनेशिया ने ज़ायोनी शासन से कहा कि जब तक वह 1967 वाली सीमाओं वाले पूर्वी बैतुल मुक़द्दस की राजधानी वाले स्वतंत्र फ़िलिस्तीनी देश का गठन नहीं करते, तब तक ज़ायोनी शासन के साथ संबंध स्थापित नहीं हो सकते.

Loading...