Friday, June 18, 2021

 

 

 

ब्रिटेन में कोरोना का नया वायरस हुआ बेकाबू, दुनिया भर में मचा हड़कंप

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना से निपटने के लिए पूरी दुनिया टिकाकरण के लिए तैयारियां में जुटी है तो वहीं ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन के मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। यूरोप समेत दुनिया के कई देशों ने ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगा द‍िया है। भारत सरकार ने भी ब्रिटेन से आने वाली फ्लाइट्स पर 31 दिसंबर तक रोक लगा दी है।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, यूनाइटेड किंगडम से खबरें हैं कि एक नए तरह का वायरस तेजी से फैल रहा है। इसलिए हमने 22 दिसंबर 23:59 बजे से ब्रिटेन से आने और जाने वाली सभी उड़ानों को 31 दिसंबर 2020 तक अस्थायी रूप से रद्द कर दिया है।

बेल्जिमय, फ्रांस और जर्मनी ने पहले ही यूनाईटेड किंगडम की हवाई यात्राओं को स्थगित कर दिया है। अगर हमें जानकारी मिलती है कि कहीं और भी नए तरह का वायरस है तो हम उसपर विचार करेंगे। यूनाइटेड किंगडम से आने वाली सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के यात्रियों को 22 दिसंबर के 23:59 बजे तक RT-PCR जांच कराना अनिवार्य है।

ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन VUI-202012/01 मिला है जिसे बेहद संक्रामक बताया जा रहा है। यह पूर्व के वायरस के मुकाबले 70 प्रतिशत अधिक तेजी से फैलता है। ब्रिटेन के स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों ने कहा कि इस बात के कोई साक्ष्‍य नहीं हैं कि यह वायरस ज्‍यादा घातक या वैक्‍सीन के खिलाफ अलग प्रतिक्रिया देगा लेकिन यह 70 फीसदी ज्‍यादा संक्रमण योग्‍य पाया गया है।

वहीं ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने बताया कि कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन पहले की तुलना में 70 से 80 फीसदी ज्यादा संक्रामक हो सकता है। हालांकि, अभी तक इस बात के पर्याप्त साक्ष्य नहीं मिले हैं कि वायरस का ये नया रूप ज्यादा गंभीर रूप से बीमार करता है।

भारत सरकार के एक सूत्र ने बताया, ‘ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए प्रकार के चलते इस पर चर्चा के लिए स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक (डीजीएचएस) की अध्यक्षता में सोमवार को संयुक्त निगरानी समूह की बैठक होगी। भारत में विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रतिनिधि डॉ रॉडरिको एच ऑफ्रिन भी बैठक में शामिल हो सकते हैं जोकि जेएमजी के सदस्य हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles