Monday, June 14, 2021

 

 

 

हिज़्बुल्लाह बोला – ‘कुद्स पर कैसा भी हमला यानि सीधे जंग’, नेतन्याहू ने कहा – तोड़ा संघर्ष विराम तो देंगे कड़ा जवाब

- Advertisement -
- Advertisement -

12 दिनों तक चली इस्राइल और फिलिस्तीनीयों के बीच जंग संघर्ष विराम से जरूरु थम गई लेकिन अब भी धमकियों का दौर जारी है। हिज़्बुल्लाह के महासचिव सैय्यद हसन नसरल्लाह ने इज़राइल को सीधी धमकी दी है कि यरूशलेम अल-कुद्स या इसके पवित्र स्थलों के खिलाफ किसी भी आक्रमण का मतलब क्षेत्रीय युद्ध होगा।

लेबनान की आजादी की 21 वीं वर्षगांठ के मौके पर उन्होने अपने भाषण में कहा कि इस क्षेत्र में प्रतिरोध यानि जीत के युग की शुरुआत। लेबनानी 25 मई को राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाते हैं। क्योंकि इजरायली सैनिकों ने 25 मई, 2000 को 18 वर्षों से अधिक के आक्रमण और कब्जे को समाप्त करने का संकेत देते हुए दक्षिण लेबनान छोड़ दिया था।

हालांकि फिर भी लेबनानी आधिकारिक रुख शेबा फार्म और केफ़रशुबा पहाड़ियों को लेबनानी क्षेत्र के रूप में मानता है जिसे मुक्त किया जाना चाहिए। लेबनान में इस साल का मुक्ति दिवस का उत्सव फिलिस्तीन में जीत के साथ जुड़ा हुआ है।

दूसरी और प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने मंगलवार को चेतावनी दी कि अगर हमास ने 11 दिनों के संघर्ष को समाप्त करने वाले संघर्ष विराम का उल्लंघन किया तो इजरायल की प्रतिक्रिया “बहुत शक्तिशाली” होगी। अमेरिकी विदेश मंत्री एंथनी ब्लिंकेन के साथ मुलाकात के बाद इजरायली प्रधानमंत्री का ये बयान आया।

प्रधानमंत्री ने कहा, “अगर हमास शांति भंग करता है और इजरायल पर हमला करता है, तो हमारी प्रतिक्रिया बहुत शक्तिशाली होगी।” मिस्र द्वारा मध्यस्थता और संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ समन्वयित संघर्ष विराम शुक्रवार को शुरू हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles