म्यांमार के राखीन प्रांत के तट पर एक नौका के डूब जाने से लगभग नौ बच्चों सहित दसियों रोहिंग्या मुसलमान मारे गये।

समाचार एजेन्सी इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त राष्ट्रसंघ के एक प्रवक्ता ने बुधवार को बताया है कि राखीन प्रांत के रोहिंग्या मुसलमान ख़रीदारी के लिए स्थानीय बाज़ार जा रहे थे कि राख़ीन प्रांत के तट पर नौका डूब गयी जिससे 9 बच्चों सहित कम से कम 21 लोग डूब गये। नौका में कुल 60 लोग सवार थे। म्यांमार के पश्चिम में स्थित राख़ीन प्रांत के शरणार्थी शिविर में दसियों हज़ार रोहिंग्या मुसलमान रहते हैं जो बहुत ही दयनीय परिस्थिति में रह रहे हैं। वर्ष 2012 से रोहिंग्या मुसलमानों के विरुद्ध हिंसात्मक कार्यवाहियां जारी हैं और अब तक बौद्धधर्म के मानने वाले अतिवादी तत्वों के हाथों सैकड़ों मुसलमान मारे जा चुके हैं। म्यांमार की सरकार इस देश के मुसलमान नागरिकों को उनका अधिकार नहीं दे रही है और बल देकर कहती है कि यह मुसलमान ग़ैर क़ानूनी पलायनकर्ता हैं जो बांग्लादेश से आये हैं जबकि म्यांमार में रहने वाले रोहिंग्या मुसलमानों का कहना है कि वे म्यांमार के स्थानीय नागरिक हैं।


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें