Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

म्यांमार की सेना मुसलमानों पर अमानवीय अत्याचार कर रही हैः संयुक्त राष्ट्र

- Advertisement -
संयुक्त राष्ट्र के विशेष राजदूत एनथानी ली का कहना है कि म्यांमार में सेना और पुलिस मुस्लिम अल्पसंख्यकों के खिलाफ ‘अमानवीय अपराध’ की दोषी है।
- Advertisement -

संयुक्त राष्ट्र के विशेष राजदूत एनथानी ली का कहना है कि म्यांमार में सेना और पुलिस मुस्लिम अल्पसंख्यकों के खिलाफ ‘अमानवीय अपराध’ की दोषी है।

बीबीसी से विशेष बातचीत करते हुए म्यांमार में मानवाधिकारों की स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत ने कहा कि म्यांमार में सेना और पुलिस मुसलमानों के खिलाफ ‘अमानवीय अपराध’ की दोषी रही हैं जबकि उन्हें इन आरोपों की जांच के लिए म्यांमार के अशांत क्षेत्र में स्वतंत्र पहुँच नहीं दी गई।

उन्होंने कहा कि बांग्लादेश में मौजूद शरणार्थियों से बात करके उन्हें मालूम हुआ कि स्थिति उनकी उम्मीदों से कहीं बदतर है, वह इस बारे में संयुक्त राष्ट्र जांच आयोग को जांच के लिए आधिकारिक आवेदन भी दे रही हैं।

दूसरी ओर म्यांमार सरकार के अधिकारियों का कहना है कि यह म्यांमार का आंतरिक मामला है और इस संबंध में आरोपों को बढ़ा चढ़ा कर पेश किया जा रहा हैं जबकि कुछ समय संयुक्त राष्ट्र भी गलत होती है।

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र इससे पहले भी रोहिंग्या मुसलमानों के साथ दुर्व्यवहार रखने पर म्यांमार सरकार की कड़ी आलोचना कर चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles