Monday, June 14, 2021

 

 

 

मुस्लिम शरणार्थियों को बदनाम करने के लिए ‘बिल्ड’ ने छापी थी झूठी खबर, अब मांगनी पड़ी माफ़ी

- Advertisement -
- Advertisement -

जर्मनी के मशहूर अखबार ‘बिल्ड’ ने मुस्लिम शरणार्थियों से माफ़ी मांगी हैं. ये माफ़ी मुस्लिम शरणार्थियों से जुड़ी एक झूठी खबर छापे जाने को लेकर मांगी गई हैं.

दरअसल, अखबार ने 2015 में नए साल के मौके पर फ्रैंकफर्ट में मुस्लिम शरणार्थियों पर आरोप लगाते हुए खबर छापी थी कि कुछ मुस्लिम शरणार्थियों ने महिलाओं पर हमला किया था. अब अखबार की और से माफी मांगते हुए कहा गया कि हम अपनी इस हरकत पर बहुत शर्मिंदा हैं.

क्या था मामला:

गृहयुद्ध के कारण सीरिया से बड़े पैमाने पर मुस्लिम शरणार्थियों ने यूरोप का रुख किया हैं. ऐसे में 2015 में कुछ शरणार्थियों का एक ग्रुप फ्रैंकफर्ट पहुंचा था. वहां के एक रेस्टोरेंट में काम करने वाले कर्मचारियों और मालिक ने आरोप लगाया था कि उन्होंने कुछ शरणार्थियों को महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और उनपर हमला करते देखा. साथ ही इस दौरान शरणार्थियों पर शराब पीकर उत्पात मचाने के भी आरोप लगाया गया था.

हालांकि पुलिस की जांच-पड़ताल के बाद सामने आया है कि वहां ऐसा कुछ नहीं हुआ था और जिन लोगों पर ये संगीन आरोप लगाए गए थे वह सब बेगुनाह है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles