मुस्लिम फैमिली को Flight से उतारा, पीड़ित बोली- हमारे पहनावे के कारण उतारा

New York: US में एक मुस्लिम फैमिली को Flight से उतारने का मामला सामने आया है। Victim एमान-एमी साद शेबले ने एयरलाइंस पर भेदभाव का आरोप लगाया। शेबले पति और तीन बच्चों के साथ शिकागो से वॉशिंगटन जा रही थीं। तभी पायलट और फ्लाइट स्टॉफ ने उन्हें लगेज लेकर एयरक्राफ्ट से बाहर जाने को कहा।

बोली-Flight से निकालने के लिए Safety Issue का हवाला दिया

– शेबले का कहना था- ” मैंने फ्लाइट स्टॉफ से बच्चों के सेफ्टी बेल्ट के बारे में पूछा था। उस समय हमें कुछ नहीं बताया गया। बाद में अचानक सेफ्टी इश्यू का हवाला देकर फ्लाइट छोड़ने को कहा।”

– “शायद वे हमारे पहनावे के कारण ऐसा बर्ताव कर रहे थे।”

– इस घटना की शेबले की फैमिली ने दो वीडियो क्लिप भी बनाईं।

– मामला सामने आने के बाद काउंसिल ऑन अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशन्स ने यूनाईडेट एयरलाइंस को फैमिली की तरफ से एक लेटर भेजा है। इसमें फ्लाइट स्टॉफ पर कार्रवाई की मांग की है।

– वहीं, इसकी ऑफिशियल शिकायत दर्ज की गई है।

– सीएआईआर-शिकागो एग्जक्यूटिव डायरेक्टर अहमद रेहाब ने एक स्टेटमेंट में कहा- “हम मामले की जांच कर रहे हैं। सिक्युरिटी की मतलब पैसेंजर को सुरक्षा देना हैं, न कि उन्हें परेशान करना है।“

 

ये है पूरा मामला

– शेबले के मुताबिक- ” वे फ्लाइट में बैठे ही थे तभी फ्लाइट स्टॉफ ने आकर उन्हें बाहर जाने को कहा।”

– ” मेरे पति ने पूछा कि क्यों? तब उन्होंने जवाब दिया कि क्योंकि वे जांच कर रहे हैं।”

– ” उसके बाद पायलट ने आकर हमें सेफ्टी इश्यू का हवाला देकर फ्लाइट छोड़ने को कहा।”

– ” हमने कहा कि ये भेदभाव है, तभी पायलट ने जवाब कहा कि फ्लाइट की सेफ्टी का मामला है। उसने इस बारे में ज्यादा जानकारी देने से मना कर दिया।”

फेसबुक पर लिखा- Shame on you ?#?unitedAirlines?।

– शेबले ने इस पूरी घटना की दो क्लिप फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट की।

– वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। अब तक 40,000 से ज्यादा लोगों ने इन वीडियो को शेयर किया है।

United Airlines ने मांगी माफ़ी

– मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, फ्लाइट से उतरने के बाद एयरलाइंस ने बाद में शेबले फैमिली से कई बार माफी मांगी।

– बाद में उनकी फैमिली दूसरी फ्लाइट में शिफ्ट की गई।

– यूनाईटेड एयरलाइंस ने कहा- ” भेदभाव पर हम जीरो टॉलरेंस पॉलिसी फॉलो करते हैं।”

– “उनके बच्चों की सिक्युरिटी की वजह से उन्हें फ्लाइट से उतरने को कहा गया। क्योंकि फ्लाइट में उनके बच्चों के सेफ्टी सीट फेडरल सेफ्टी रेग्युलेशन को पूरा नहीं करते थे।” (khabarlive)

विज्ञापन