Friday, July 30, 2021

 

 

 

चीन से दूर हो रहे मुस्लिम देश, मलेशिया के बाद पाकिस्तान ने भी किया किनारा

- Advertisement -
- Advertisement -

हाल ही में मलयेशिया ने चीन के साथ करोड़ों बिलियन डॉलर प्रॉजेक्ट से बनने वाले रेल लिंक प्रॉजेक्ट को रद्द कर दिया। अब पाकिस्तान ने भी चीन को बड़ा झटका देते हुए दायमेर-बाशा बांध के लिए मिलनेवाली चीन की मदद को ठुकरा दिया है।

दरअसल सिंधु नदी पर बननेवाले इस बांध के लिए पहले चीन की तरफ से आर्थिक सहयोग मिलने वाला था। इसके अलावा चीन पाकिस्तान कॉरिडोर (सीपीईसी) का हिस्सा एक रेलवे प्रॉजेक्ट में भी पेइचिंग की भागीदारी इस्लामाबाद ने सीमित कर दी है।

बता दें कि मलयेशिया का रेल प्रोजेक्ट के अलावा कई महत्वपूर्ण सरकारी परियोजनाओं में भी चीन की तरफ से बड़ा निवेश प्रस्तावित था। ईस्ट कोस्ट रेल लिंक (ईसीआरएल) बनाने के लिए 19.6 बिलियन डॉलर रकम खर्च होनेवाली थी।

हालांकि पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक चुनाव हारने के बाद से राजनीतिक जीवन में मुश्किल हालात का सामना कर रहे हैं। उन पर इस वक्त भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे हैं और पूर्व में उनकी सरकार के सभी फैसलों की नई सरकार समीक्षा कर रही है। मलयेशिया ने प्रॉजेक्ट महंगा होने का बताकर इससे किनारा कर लिया है।

मलयेशिया के आर्थिक मामलों के मंत्री अजमीन अली ने कहा, ‘ईसीआरएल प्रॉजेक्ट हमारे लिए काफी महंगा है। अगर हम इस प्रॉजेक्ट को समाप्त नहीं करते तो सिर्फ ब्याज के तौर पर हर साल हमें 120 मिलियन रकम चुकानी होती और देश के मौजूदा हालात में हम इतना महंगा लोन नहीं दे सकते हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles