मिस इंग्लैंड को लेकर चल रही एक प्रतियोगिता में मुस्लिम ब्यूटी क्वीन ने बिकनी पहनने से इंकार कर दिया। जिसके बाद आयशा खान दुनिया भर में चर्चा का विषय बन गई।  वह टॉप 20 के प्रतियोगियो में शामिल हैं। हालांकि  स प्रतियोगिता में भाग लेते हुए उन्होने स्विमसूट पहना।

मुस्लिम ब्यूटी क्वीन आयशा खान का कहना है कि वह बिकनी पहने हुए फोटो नहीं देना चाहती थीं लेकिन वह इस प्रतियोगिता में भाग जरूर लेना चाहती थीं। जिसके बाद उन्होंने स्विमसूट पहनने का फैसला लिया।

उन्होंने कहा कि मैं इस राउंड में जीतने के मकसद से नहीं उतरी थी, मैं स्विमसूट को लेकर अपनी सोच लोगों को बताना चाहती थी। उनका कहना है कि मैं अपने आप से  सच्ची और अपनी पृष्ठभूमि के प्रति ईमानदार रहना चाहती थी।

आयशा ने कहा, मैं यह बताना चाहती थी कि बीच पर जाने के लिए आपको बिकनी ही पहनना पड़े, यह जरूरी नहीं है। कम कपड़े पहनना और ज्यादा कपड़े पहनना दोनों बराबर है और यह आपकी पसंद की बात है आप क्या पहनना चाहती हैं।

गौरतलब है कि स्विमसूट राउंड साल 2010 में प्रतिबंधित कर दिया गया था हालांकि अब यह वैकल्पिक है और मिस बीच ब्यूटी कॉन्टेस्ट जीतने वाले को मॉरीशस जाने का मौका मिलता है। इसके अलावा इस प्रतियोगिता में जीतने वाले को टॉप-20 मे जल्दी जगह बनाने का मौका भी मिलता है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन