Sunday, August 1, 2021

 

 

 

इदलिब संकट को लेकर मर्केल और मैक्रोन चाहते है एर्दोआन और पुतिन से तुरंत मुलाक़ात

- Advertisement -
- Advertisement -

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन ने रूस के व्लादिमीर पुतिन से कहा कि वे सीरिया में संकट को टालने के लिए उनसे और राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन से मिलना चाहते हैं।

 मर्केल के कार्यालय ने कहा, पुतिन के साथ अपने फोन कॉल में, मर्केल और मैक्रॉन ने “सीरिया के इदलिब प्रांत के निवासियों के लिए मानवीय तबाही पर चिंता व्यक्त की।” चांसलर कार्यालय ने कहा कि दो यूरोपीय संघ के नेताओं ने राष्ट्रपति पुतिन और राष्ट्रपति एर्दोआन से मिलकर संकट का राजनीतिक समाधान खोजने की इच्छा व्यक्त की।

उनके बयान ने कहा, मर्केल और मैक्रॉन ने कहा, “लड़ाई में तत्काल अंत और जरूरत पर लोगों के लिए मानवीय दृष्टिकोण का उपयोग किया,”  2011 में सीरिया के गृह युद्ध के बाद से, देश ने इतने कम समय में इतने लोगों को विस्थापित कभी नहीं देखा। नौ वर्षों में, लाखों नागरिक अपने घरों से भाग गए हैं और 380,000 से अधिक मारे गए हैं।

रूस ने बुधवार को यू.एन. सुरक्षा परिषद के एक बयान को अपनाने पर आपत्ति जताई, जिसमें कहा गया था कि इदलिब में संघर्ष विराम के लिए कहा जाएगा।  U.N ने पड़ोसी तुर्की से नए विस्थापित लोगों को स्वीकार करने का आग्रह किया लेकिन अंकारा विरोध कर रहा है क्योंकि उसके क्षेत्र में पहले से ही कुछ 3.7 मिलियन सीरियाई हैं।

बता दें कि इदलिब में सीरिया शासन और तुर्की के आमने-सामने आ जाने से संकट गहरा गया है। तुर्की इदलिब में सीरियाई शरणार्थियों बसाना चाहता है। जिसके लिए उसने सैन्य अभियान भी शुरू कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles