रियाद : सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान अल सऊद ने रविवार को कहा कि उनका देश इस क्षेत्र में कोई युद्ध नहीं चाहता है लेकिन किसी भी खतरे से निपटने में संकोच नहीं करेगा। क्राउन प्रिंस का निशाना सीधे तौर पर ईरान की और था।

उन्होंने अशरक अल-अस्वत अखबार के साथ एक साक्षात्कार में कहा, “हम क्षेत्र में युद्ध नहीं चाहते हैं, लेकिन हम अपने लोगों, संप्रभुता और महत्वपूर्ण हितों से बाहर किसी भी खतरे से निपटने में संकोच नहीं करेंगे।”

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से ईरान के हालिया कार्यो पर कड़ा रुख अपनाने का आग्रह किया।  यमन संकट पर युद्धग्रस्त देश में एक राजनीतिक समाधान के लिए सभी प्रयासों के समर्थन की उन्होंने पुष्टि की।

सऊदी क्राउन प्रिंस ने क्षेत्र में सुरक्षा और स्थिरता प्राप्त करने में महत्वपूर्ण कारक के रूप में अमेरिका के साथ रणनीतिक संबंधों पर भी प्रकाश डाला। सऊदी पत्रकार और वाशिंगटन पोस्ट के स्तंभकार रहे जमाल खशोगी की हत्या के ‘दर्दनाक’ अपराध का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि रियाद ने ‘पूर्ण न्याय और जवाबदेही’ की मांग की।

बिन सलमान ने कहा ‘जमाल खशोगी की हत्या बहुत ही पीड़ादायी अपराध’ है। उन्होंने कहा, ‘राजनीतिक लाभ के लिए इसे भुनाने वाला चाहे कोई भी हो, उसे ऐसा नहीं करना चाहिए और उसे सबूत (सऊदी अरब की) अदालत में पेश करने चाहिए, ताकि न्याय में मदद मिल सके।’ हालांकि मोहम्मद बिन सलमान ने यह भी कहा कि वह तुर्की सहित सभी इस्लामी देशों के साथ मजबूत रिश्ते चाहते हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन