बरसों से चली आ रही मालदीव और भारत की दोस्ती में दरार दिन-प्रतिदिन बढती ही जा रही है. जिसका सीधा फायदा चीन उठा रहा है. ऐसे में अब मालदीव ने चीन को अपना सच्चा दोस्त करार दिया है.

मालदीव के अखबार के संपादकीय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मुस्लिम विरोधी करार दिया. साथ ही कहा कि भारत मालदीव का सबसे बड़ा दुश्मन है. यह लेख राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन के मुखपत्र में छपा है.

अखबार में आरोप लगाया गया कि भारत और श्रीलंका मालदीव में यमीन सरकार के खिलाफ तख्ता पलट की साजिश रच रहे हैं. माना जा रहा है कि यह लेख राष्ट्रपति कार्यालय द्वारा मंजूरी देने के बाद ही छपा है.

हालांकि लेख पर एमडीपी नेता और मालदीव के पूर्व विदेश मंत्री अहमद नसीम का कहना है कि इस तरह के संपादकीय चीन को खुश करने के मकसद छापे जा रहे हैं. उन्होंने कहा, ये दोनों देशों के हित में नहीं हैं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि भारत के साथ अच्छे संबंधों में ही दोनों देशों की भलाई है.

वहीँ विपक्षी नेता तथा पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद और मौमून अब्दुल गयूम ने संपादकीय का कड़ा विरोध करते हुए कहा कि वे इस लेख की कड़ी निंदा करते हैं, जो भारत को मालदीव का सबसे बड़े दुश्मन के रूप में प्रदर्शित करता है. उन्होंने कहा कि भारत हमेशा मालदीव  का सबसे अच्छा दोस्त रहा है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?