mal11

मालदीव के निवर्तमान राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन के आदेश पर ब्रिटिश कालीन उन मूर्तियो को तोड़ दिया गया है। जो इस्लामी मान्यताओं के खिलाफ बनी थी।

मंगलवार को इन सभी मूर्तियों को तोड़ दिया गया है। यामीन ने जुलाई में ही इन मूर्तियों को नष्ट करने का आदेश दिया था लेकिन उसका पालन शुक्रवार को किया गया।

मालदीव के एक रिसॉर्ट में आधे डूबे हुए धातु के कंटेनर में जेसन डि‘कैरस टेलर द्वारा इन मूर्तियों को बनाया गया था। बता दें कि मालदीव का आधिकारिक धर्म इस्लाम है। जिसके तहत मूर्ति निर्माण को हराम माना गया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

यामीन ने जुलाई में अपने आदेश में कहा था कि ‘कोरालारियम’ सीरिज की इन मूर्तियों के खिलाफ लोगों की भावनाओं को देखते हुए उन्होंने इन्हें नष्ट करने का फैसला लिया है।

सरकारी मीडिया की ओर से मूर्तियों को नष्ट करने का वीडियो जारी किया गया है। पुलिस ने कुल्हाड़ी और अन्य उपकरणों की मदद से इन मूर्तियों को नष्ट किया है।

Loading...