मलेशिया ने सऊदी अरब के उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया हैं जिसमे मलेशिया को यमन युद्ध में सऊदी गठबंधन की और से शामिल किया जाना था. हालांकि संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की गई है कि यमन विरोधी सऊदी गठबंधन में मलेशिया शामिल है.

मलेशियाई सरकार ने यमन के ख़िलाफ़ सऊदी अरब का साथ देने से इंकार कर दिया हैं. हालांकि मलेशिया की और से कई विमान सऊदी अरब रवाना किए हैं और साथ ही उसने दो सैन्य अभ्यास में सऊदी सेना के साथ भागीदारी भी की है.

मलेशियाई रक्षा मंत्री हिशामुद्दीन हुसैन ने बुधवार को अपने एक बयान में कहा कि उनका देश, यमन के ख़िलाफ़ सऊदी अरब द्वारा बनाए गए गठबंधन में शामिल होकर लड़ाई में भाग नहीं लेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इससे पहले मलेशिया के प्रधानमंत्री के सहयोगी अहमद ज़ाहिद ने यमन की इस्तीफ़ा दे चुकी सरकार के उप प्रधानमंत्री अब्दुल मलिक अब्दुल जलील अल-मुख़लाफ़ी से मुलाक़ात की थी.

Loading...