अमेरिका के कैलिफोर्निया में एक पार्क में लगी महात्मा गांधी की प्रतिमा को उपद्रवियों द्वारा क्षतिग्रस्त करने का मामला सामने आया है। भारत-अमेरिकी समुदाय ने इसे हेट क्राइम का मामला बताते हुए जांच की मांग की है।

जानकारी के अनुसार,उत्तरी कैलिफोर्निया के डेविस सिटी  के एक पार्क में  महात्मा गांधी की छह फीट ऊंची और 294 किलोग्राम की कांसे की मूर्ति स्थापित है। उपद्रवियों ने गांधी की प्रतिमा के साथ  बुरी तरह तोड़-फोड़ की है। मूर्ति के चेहरे को बुरी तरह खंडित कर दिया है और प्रतिमा को पैर से नीचे के हिस्से को भी तोड़ दिया है।

वाशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास ने अधिकारियों से इस मामले की गहनता से जांच और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। वहीं कैलिफोर्निया के शहर सैन फ्रांसिस्को में स्थित भारतीय महावाणिज्य दूतावास ने भी इस मामले में डेविस शहर के स्थानीय पुलिस अधिकारियों से बात कर, मामले की गहनता से जांच करने के लिये कहा है।

डेविस पुलिस विभाग के डेप्युटी चीफ पॉल डोरोशोव ने माना है कि शहर के एक समुदाय के लिए इस प्रतिमा का सांस्कृतिक महत्व है। ऐसे में इसकी गंभीरता को समझा जा सकता है। यह मूर्ति भारत सरकार ने डेविस को दान की थी जबकि भारत में अल्पसंख्यकों के संगठन (OFMI) ने इसका विरोध किया है और इसे हटाने की मांग की है।

इस मामले में अमेरिका के विदेशी विभाग ने कहा है कि यह कृत्य बेहद ही निंदनीय है। मामले में जो भी दोषी हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।