कुवैत के एक सांसद ने सऊदी अरब का नाम बदलकर ‘हरमैन शरी़फ़ैन’ रखने की मांग की है, याद रहे सऊदी अरब का नाम पूर्व शासक के नाम है.

कुवैत से प्रकाशित होने वाले समाचारपत्र अलवतन की रिपोर्ट के अनुसार इस देश के एक सांसद वलीद तबातबाई ने मांग की है कि सऊदी अरब राजशाही का नाम बदल कर “हरमैन शरी़फ़ैन का देश” अर्थात मक्के व मदीने के पवित्र स्थलों वाला देश रखा जाना चाहिए।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने अपने ट्वीटर पेज पर यह बात लिखी है और कहा है कि कितना उचित होगा कि सऊदी अरब का सरकारी नाम “हरमैन शरी़फ़ैन का देश” हो जाए।

ज्ञात रहे कि आले सऊद ने ब्रिटिश साम्राज्य की मदद से अरब प्रायद्वीप पर क़ब्ज़ा जमाने के बाद, जिसे उस समय हेजाज़ कहा जाता था, एक निंदनीय क़दम उठाते हुए सबसे अहम इस्लामी देश का नाम, जिसे हरमैन शरीफ़ैन का देश कहा जाता था, अपने पूर्वज सऊद बिन अब्दुल अज़ीज़ के नाम पर “सऊदी अरब राजशाही” रख दिया था।

Loading...