Thursday, October 21, 2021

 

 

 

पैगंबर के अपमान के विरोध में कुवैत के बाजारों से हटाए गए फ्रांसीसी उत्पाद

- Advertisement -
- Advertisement -

राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन द्वारा इस्लामवादियों की आलोचना करने और पैगंबर मोहम्मद (PBUH) के कार्टूनों के प्रकाशन को लेकर दुनिया भर के मुस्लिमों में भारी गुस्सा देखने को मिल रहा है। ऐसे में अब मुस्लिमों ने फ्रांस को सबक सिखाने के लिए फ्रांसीसी सामानों के बहिष्कार शुरू कर दिया।

सोशल मीडिया पर यूजर, ज्यादातर ट्विटर पर, अब उन फ्रांसीसी उत्पादों की तस्वीरें साझा कर रहे हैं जिन्हें मुसलमानों को खरीदने से बचना चाहिए। बहिष्कार सूची में कार्टियर, डायर, चैनल, नीना रिक्की, गिवेंची और लैकोस्टे जैसे लक्जरी उत्पादों के साथ-साथ खाद्य उत्पादों या कार निर्माताओं जैसे कि रेनॉल्ट, या सिगरेट ब्रांड Gauloises शामिल हैं।

अल जज़ीरा अरबी ने शुक्रवार को यह भी बताया कि कुवैत में सुपरमार्केटों ने बहिष्कार अभियान के अनुरूप फ्रांसीसी उत्पादों को उनकी अलमारियों से हटाना शुरू कर दिया। बता दें कि हाल ही में चार्ली हेब्दो ने पैगंबर मुहम्मद के कैरिकेचर को पुनःप्रकाशित किया।

कार्टून को फिर से प्रकाशित करने के निर्णय को पत्रिका द्वारा नए सिरे से उकसावे के रूप में देखा गया था जो लंबे समय से धर्म पर अपने व्यंग्यपूर्ण हमलों के लिए जानी जाती रही है। ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (OIC) ने शुक्रवार को फ्रांस के रवैये की आलोचना की।

ओआईसी ने बयान जारी कर कहा, “हम पैगंबर मुहम्मद और इस्लामिक प्रतीकों का अपमान करते हुए मुसलमानों की भावनाओं पर लगातार व्यवस्थित हमले की निंदा करते हैं।”

बयान में उल्लेख किया गया है कि कुछ फ्रांसीसी अधिकारियों के राजनीतिक भाषण जो राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए फ्रांसीसी-इस्लामिक संबंधों को नुकसान पहुंचाता है, नफरत को प्रोत्साहित करता है, इस बात पर जोर देते हुए कि यह स्वतंत्रता के नाम पर किसी भी धार्मिक प्रतीक का अपमान करने के लिए अस्वीकार्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles