कुवैत ने उत्तर कोरिया के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंधों को लागू कर दिया है. इस बात की जानकारी कुवैत के विदेश मंत्रालय ने दी है.

हाल ही में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के प्रति अपने देश की प्रतिबद्धता दोहराते हुए  कुवैत ने उत्तरी कोरिया के आर्थिक बहिष्कार की शुरूआत की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कुवैत के विदेश मंत्रालय ने प्रतिबंध लागू करने के लिए एक राष्ट्रीय समिति की स्थापना की जिसमें उत्तरी कोरिया को वित्तीय स्थानान्तरण रोकना भी शामिल है, इसके अलावा आर्थिक विकास के लिए कुवैत फंड द्वारा दिए गए ऋणों को रोकने और उत्तर कोरियाई श्रमिकों के लिए प्रवेश वीजा रोकना शामिल है.

इसके साथ ही कुवैत में उत्तर कोरियाई दूतावास के लिए मान्यता प्राप्त राजनयिकों की संख्या को कम करते हुए उत्तरी कोरिया से वस्तुओं के सभी शिपमेंट भी निलंबित कर दिया है.

कुवैत का ये कदम अगले साल की शुरुआत में सुरक्षा परिषद की अपनी स्थायी सदस्यता लेने के लिए उठाया गया है. जून में, कुवैत ने सुरक्षा परिषद के संकल्प 2270 के अनुसार कोयले की खरीद, उत्तरी कोरिया से लौह और सोने जैसे कुछ खनिजों के आयत पर प्रतिबंध लगा दिया था.

Loading...