इंसानियत के नाते कुवैत सरकार ने Private plane से इन 118 महिलाओं को भेजा उनके देश

कुवैत सरकार ने मेडागास्कर निवासी 118 महिलाओं की मुसीबतों को पूरी तरह समाप्त कर दिया है। आपको बता दें मेडागास्कर में कुवैत का कोई दूतावास नहीं है। इन महिलाओं को चार बच्चों के साथ कुवैत में निर्वासित निवास के उल्लंघन के लिए गिरफ्तार किया गया था।

लेकिन अब इन सभी महिलाओं को कुवैत ने एक निजी विमान से वापस मेडागास्कर भेज दिया है। में प्रकाशित खबर के अनुसार राजनयिक प्रयास के चलते नागरिकों को वापस भेजना पड़ा क्योंकि मेडागास्कर हवाई अड्डा बंद हो गया है।

DGCA ने सभी महिलाओं के लिए यात्रा प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाया। आपको बता दें यह एक अंतरराष्ट्रीय समझौता है जो सभी देश अपने नागरिकों की देखभाल के लिए करते हैं। लेकिन कुछ देश के दूतावास जो कि सहयोग नहीं करते हैं.

अपने हिरासत में लिए गए नागरिक की परवाह नहीं करते हैं। कुवैत सरकार ने इंसानियत के नाते धर्मार्थ संस्थानों के माध्यम से इन निर्वासित जरूरतों को पूरा करती है।

विज्ञापन