अरब देशों के इजरायल के साथ हो रहे समझौते के बीच कुवैत के प्रधान मंत्री ने जोर देकर कहा कि उनका देश फिलिस्तीनी मुद्दों पर समर्थन जारी रखे हुए है।

कुवैती पीएम सबाह खालिद अल-हमद अल-सबाह ने साथी सांसदों से कहा, “यह हमारा केंद्रीय मुद्दा है।” हम फिलीस्तीनी लोगों के लिए एक उचित समाधान तक पहुँचने के लिए उसके साथ खड़े हैं।”

कुवैत, प्रधान मंत्री ने कहा, एक “अटूट” विदेश नीति और नींव के लिए प्रतिबद्ध है जिसे स्वर्गीय अमीर, सबा अल-अहमद ने जारी रखा था। उन्होंने कहा, “हमारे देश के हितों की रक्षा के लिए राष्ट्रीय स्तर पर सहयोग करना आवश्यक है।” “हम वैश्विक शांति की तलाश जारी रखेंगे और पैन-अरब बदलावों को हल करने में मदद करेंगे।”

इसके साथ ही उन्होने कतर को भी अपना समर्थन दिया। 2017 के मध्य में, सऊदी अरब, यूएई, बहरीन और मिस्र ने कतर पर नाकाबंदी लगाई, साथ ही उन्होंने “आतंकवाद” का समर्थन करने का आरोप भी लगाया था। हालांकि दोहा में सरकार ऐसे सभी आरोपों को नकारती रही है।

बता दें कि कुवैत ने इन देशों के बीच हमेशा मध्यस्था करने की कोशिश की। ताकि अरब और मुस्लिम देशों में फुट न पड़े। लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पाया।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano