बेरोजगारी के चलते हजारों की तादाद में सऊदी अरब में फंसे भारतीयों की मदद के लिए खुद सऊदी बादशाह आगे आये हैं. उन्होंने भारतीय मजदूरों के बकाए को लेकर कड़े निर्देश जारी किए हैं. साथ ही न्होंने मदद के लिए दस करोड़ सऊदी रियाल (करीब 178 करोड़ रुपये) की धनराशि भी जारी कर दी हैं. साथ ही संकट में फंसे मजदूरों को एक्जिट वीजा देने का पासपोर्ट विभाग को आदेश दिया है.

सुल्तान सलमान ने भारतीय मजदूरों के बकाये लेकर जारी निर्देश में कहा, ‘जब तक प्रवासी मजदूरों का बकाया नहीं दिया जाता, तब तक सरकार के साथ जुड़े कंपनियों को कोई सरकारी भुगतान नहीं होगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

श्रम मंत्रालय को निर्देश दिया गया है कि वह संबंधित देशों के प्रतिनिधियों से संपर्क कर सऊदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में बताए. इसके अलावा किंग सलमान ने देश भर में श्रमिक विवाद निपटारा ट्रिब्यूनल की तादाद बढ़ाकर 30 करने की घोषणा भी की है.

उनकी घोषणाओं के बाद सऊदी अधिकारियों ने जेद्दा स्थित भारतीय दूतावास से संपर्क कर मजदूरों के लिए वैकल्पिक रोजगार तलाशने का काम तेजी से शुरू कर दिया है