1fbd2759 e781 4a36 af5e 8571e2b60231 16x9 788x442

1fbd2759 e781 4a36 af5e 8571e2b60231 16x9 788x442

सऊदी अरब के पहले बादशाह के रूप में शाह सलमान की रूस यात्रा ने तारीख में नए आयाम लिख दिए है. अमेरिका के सबसे खास दोस्तों में शामिल सऊदी अरब अब अमेरिका के सबसे कट्टर प्रतिद्वंदी रूस के नजदीक नजर आ रहा है.

अरबों डॉलर के समझौते सहित सीरिया और फिलिस्तीन जैसे मुद्दों पर एक राय कायम करने मास्कों पहुंचे शाह सलमान ने तातारस्तान के राष्ट्रपति रुस्तम मिनिखानोव के उस प्रस्ताव पर अपनी सहमति दे दी है. जिसके तहत ‘रशिया इस्लामिक वर्ल्ड ग्रुप’ की बैठक सऊदी अरब में आयोजित होगी.

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के मार्गदर्शन से चल रहे इस संगठन के अध्यक्ष खुद तातारस्तान के राष्ट्रपति है. 2006 में बना यह संगठन रूस के नेतृत्व में इस्लामिक दुनिया के मामलों में अपनी ख़ास भूमिका निभाता है.

इस संगठन की स्थापना पूर्व रूसी प्रधान मंत्री ईएम प्रामाकोव और तातारस्तान के पूर्व राष्ट्रपति एम.एस. शेमिव ने मिलकर की थी. इसके गठन के बाद शेमिव रूसी संघ के पर्यवेक्षक के रूप में इस्लामी सहयोग संगठन में शामिल हुए थे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें