turkey-russian-ambass_horo-1-e1482167222972-635x357

अंकारा | पहली बार ऐसा खौफनाक मंजर किसी आर्ट गैलरी में देखने को मिला. एक सरफिरा हाथो में बन्दुक लिए , रुसी राजदूत की तरफ आता है और देखते ही देखते गोली चला देता है. वहां मौजदू सभी लोग इससे इतने घबरा जाते है की सभी वही जमीन पर लेट जाते है. इसके बात हत्यारा आर्ट गैलरी की कुछ तस्वीरो को निहारता है. इस दौरान वो , वहां मौजूद लोगो को डराता है, धमकाता है.

यह नजारा था तुर्की की उस आर्ट गैलरी का जहाँ रुसी राजदूत आंद्रे जी कार्लोव की एक सरफिरे ने गोली मारकर हत्या कर दी. यह पहला मौका है जब किसी देश के राजदूत की ऑन कैमरा हत्या कर दी गयी. जिस समय यह घटना हुई, कार्लोव आर्ट गैलरी में भाषण दे रहे थे. उनका भाषण कैमरे में रिकॉर्ड किया जा रहा था. तभी हाथ में बन्दुक लिए एक हत्यारा आया और बहुत नजदीक से कार्लोव को पीछे से गोली मार दी. यह पूरा नजारा कैमरे में कैद हुआ.

हत्यारे की पहचान स्पेशल फोर्सेस पुलिस के सदस्य मेवल्यूट मर्ट ऐल्टिंटश के रूप में हुई है. 22 वर्षीय ऐल्टिंटश उस समय ऑफ ड्यूटी था. गोली चलाते समय ऐल्टिंटश चिल्ला रहा था की ‘ अलेप्पो में हम मर रहे है, तुम यहाँ मरोगे, अल्लाह हु अकबर’. कार्लोव को गोली मारने के बाद भी ऐल्टिंटश वहां से नही गया. कुछ देर बाद सुरक्षाकर्मियो ने उसे मार गिराया.

कार्लोव 2013 से तुर्की में रूस के राजदूत नियुक्त थे. सीरिया में राष्ट्रपति बसर अल-बसद की मदद करने के लिए रुसी सेना लगातार बमबारी कर रही है. अल-बसद , रुसी राष्ट्रपति पुतिन के अच्छे दोस्त माने जाते है. यही बात तुर्की को पसंद नही आई.  इसी वजह से तुर्की ने पिछले साल एक रुसी विमान को मार गिराया. जिसके बाद रूस ने तुर्की पर कई प्रतिबंध लगा दिए. यही से तुर्की और रूस के संबंधो में खटास आनी शुरू हो गयी. कार्लोव की हत्या उसी की एक प्रतिक्रिया हो सकती है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें