br

br

ब्रिटेन के लंदन में नमाज पढ़कर लौट रहे मुस्लिमों को कार से कुचलने वाले ब्रिटिश नागरिक डेरन ओसबोर्न को अदालत ने 43 वर्ष क़ैद की सज़ा सुनाई है.

ब्रिटेन के शहर कारडफ़ निवासी 48 वर्षीय डेरन ओसबोर्न ने 19 जून 2017 को  रमजान के महीने में तरावीह की नमाज़ पढ़कर लौट रहे मुस्लिमों को अपनी कार से कुचलने की कोशिश की थी. इस हमले में 51 वर्षीय नमाज़ी मुकर्रम अली की मौत हो गई थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ओसबोर्न की हरकत को अदालत ने नमाज़ियों पर जानबूझकर कार चढ़ाने का आतंकवादी हमला माना है. लंदन की अदालत की जज बोबी चीमागर्ब ने फ़ैसला सुनाते हुए डेरन ओसबोर्न को कहा कि यह एक आतंकवादी हमला था और तुमने हत्या का इरादा किया था.

जज ने कहा कि तुम्हारे अंदर हमले के दौरान नफरत भरी हुई थी. जिसके चलते तुमने नस्लवाद का प्रदर्शन किया. जिसकी वजह से तुमने इस हमले को अंजाम दिया.

ध्यान रहे पिछले वर्ष जून में लंदन के फ़ेन्ज़बेरी पार्क के निकट स्थित मस्जिद के बाहर ये हमला हुआ था. जिसमे एक व्यक्ति हताहत और 8 अन्य घायल हो गये थे.

Loading...