sauu

वाशिंगटन। सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खाशोग्गी के बेटे ने अपने परिवार सहित रियाद छोड़ दिया है। वह अब अमेरिका पहुंच चुके है। सलाह ने शाह सलमान और क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान से हुई मुलाक़ात के बाद सऊदी अरब छोड़ा है।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने सऊदी से मृत पत्रकार के बेटे को भेजने का आग्रह किया था और उप प्रवक्ता रॉबर्ट पल्लाडिनो ने कहा कि अमेरिका उसे भेजने की अनुमति देने पर काफी खुश हुआ है।

ध्यान रहे अमेरिकी-सऊदी नागरिक सलाह बिन जमाल खशोगगी के पासपोर्ट को कुछ महीने पहले सऊदी अरब में प्रतिबंधित कर दिया गया था, जिसके चलते वो देश छोड़ने में असमर्थ थे। गुरुवार से पहले, सलाह को देश छोड़ने से रोक दिया गया था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सीएनएन ने मंगलवार को बताया कि क्राउन प्रिंस और उनके पिता राजा सलमान बिन अब्दुलजीज को रियाद में एक निवेश सम्मेलन में सलाह के साथ हाथ मिलाते हुए देखा गया था। बता दें कि सलाह, पत्रकार जमाल खाशोग्गी के बड़े बेटे हैं।

khasss

इस सम्मेलन में इस मामले को लेकर क्राउन प्रिंस ने पहली बार सार्वजनिक रूप से प्रतिक्रिया दी। उन्होंने घटना को डरावना बताते हुए कहा कि इस मामले में न्याय जरूर होगा। मोहम्मद बिन सलमान ने  निवेश सम्मेलन को संबोधित करते हुए बुधवार को कहा कि इस घटना के चलते तुर्की के साथ संबंध नहीं बिगड़ेंगे।

उन्होंने कहा, ‘खशोगी प्रकरण का इस्तेमाल कई लोग सऊदी अरब और तुर्की के बीच संबंध खराब करने के लिए कर रहे हैं।’ उन्होने आगे कहा, ‘सऊदी के लोगों के लिए यह घटना बेहद दुखद है। यह डरावनी घटना है और कोई भी इसे सही नहीं ठहरा सकता है।”  उन्होंने सम्मेलन में कहा, ‘जो जिम्मेदार होंगे, उन्हें जवाबदेह ठहराया जाएगा और न्याय होगा।’

Loading...