syria refusee e1519898172172

syria refusee e1519898172172

संघर्ष के दौरान मानवता की राह देखना ठीक उसी प्रकार है, जिस प्रकार हम अँधेरी सुरंग में प्रकाश की राह देखते हैं और वह हमें तब जाकर मिलती है जब सुरंग समाप्त हो जाती है.

इन दिनों सीरिया में हो रहे संकट से पूरा विश्व परेशान है, मासूम बच्चों के मौत की फोटो से पूरा इन्टरनेट आंसुओं में बदल गया है, हर कोई उन मासूम बच्चों की खुशहाली के लिए प्रार्थना कर रहा है, इन्टरनेट में बच्चों की खून से रंगी शक्ल से हर कोई उदास हो रहा है, जगह-जगह असद शासन की निंदा की ज़ा रही है. ये लोग मदद की गुहार कर रहे हैं, कई लोग बेघर हो चुके हैं तो कई लोग इस संघर्ष में अपने माता-पिता से अलग हो गए हैं.

सीरिया के घौता क्षेत्र में पिछले कुछ समय से चल रहे संघर्ष में 500 से ज्यादा लोग अपनी जिन्दगी खो चुके हैं,जिनमे अधिकतर मासूम बच्चे और महिलाएं हैं, यह सीरिया का ग्रह युद्ध है, जो पिछले सात सालों से सीरिया में चल रहा है, इस वर्ष इस युद्ध ने आठवें साल में प्रवेश कर दिया, जिसमे कई नागरिकों की जाने चली गयी.


कई लोगों ने अपने मासूम बच्चों को अपने सामने मौत के घर में घुसते हुए देखा है, इन लोगों की मदद के लिए यह दल सामने आया है, जिसने सीरिया में जाकर इंसानियत का धर्म अपनाकर सीरिया के लोगों की मदद की है .

सीरिया में बह रही खून की नदियों के बीच इंटरनेशनल एनजीओ खालसा ऐड ने सीरिया में सहायता प्रदान करना शुरू कर दिया है.

निशुल्क भोजन से लेकर स्वास्थ्य सेवाओं तक और रहने के लिए शरण की व्यवस्था कर खालसा ऐड सीरिया में लोगों की मदद कर रहा है.

source-twitter

1999 में कोसवो में शरणार्थियों की दुर्दशा देखने के बाद रविंदर सिंह ने एक एनजीओ खोला, जिसका उद्देश्य दुनिया के किसी भी कोने में जरुरतमंदो की मदद करना था.” इसके आयोजकों ने कहा की यह लोग सिख सिद्धांतो पर विश्वास करते हैं “पूरी दुनिया को एक मान्यता देना”.

सोशल मीडिया पर यूजर्स खालसा ऐड के कार्यों से प्रसन्न है, सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया:

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?