khalee

दुबईः ओमान की एक कंपनी में कार्य़रत भारतीय कर्मचारी को केरल बाढ़ पीड़ितों का उड़ाने पर नौकरी से निकाल दिया गया है। राहुल चेरू पलायट्टु को अपमानजनक टिप्पणी करने के बाद उसको कंपनी ने बर्खास्त कर दिया है।

मूल रूप से केरल के रहने वाले राहुल यूएई की कंपनी लुलु ग्रुप ऑफ इंटरनेशनल में कैशियर के पद पर कार्यरत थे।ओमान में लुलु के एचआर मैनेजर ने राहुल के टर्मिनेशन लेटर पर लिखा, ‘सोशल मीडिया पर भारत के केरल में मौजूदा बाढ़ की स्थिति के संबंध में आपकी अत्यधिक असंवेदनशील और अपमानजनक टिप्पणियों के कारण हम तत्काल प्रभाव से आपकी सेवा समाप्त कर रहे हैं।’

लुलु समूह के सीसीओ वी नंदकुमार, ने खलीज टाइम्स को बताया कि संगठन ने ‘उसकी सेवाओं को समाप्त करने के लिए हमने तत्काल कदम उठाया और इस तरह के मुद्दों पर हमारे रुख के बारे में समाज को साफ संदेश दिया है।’ उन्होंने कहा, ‘एक संगठन के रूप में हम हमेशा ही मानवतावादी मूल्यों और सर्वोच्च नैतिक प्रथाओं के लिए खड़े हुए हैं।’

बता दें कि कंपनी के मालिक भी मूल रूप से केरल के हैं। उन्होंने बाढ़ पीड़ितों के लिए 17.5 करोड़ रुपए दान में दिए थे। राहुल ने रविवार को कहा इसके लिए  माफी मांगते हुए कहा मुझसे भारी भूल हुई है। जब मैंने टिप्पणी की, तब मुझे इस बात का बिल्कुल अंदाजा नहीं था।”

बता दें कि केरल 94 साल की सबसे भीषण बाढ़ का सामना कर रहा है। 12 दिन से भारी बारिश, भूस्खलन और बाढ़ में करीब 500 लोगों की मौत हो  चुकी है।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें