इराक़ के कुर्दिस्तान क्षेत्र को अलग देश बनाने की मांग करते हुए जनमत संग्रह कराने की कोशिश की गई. लेकिन इराक सुप्रीम कोर्ट ने इस पर रोक लगा दी.

जनमत संग्रह को हुई रैली में कुर्दिस्तान का समर्थन करने वालों ने इजरायली झंडे लहरा कर इराक़ के पूर्व प्रधान मंत्री नूरी अलमालेकी की उस बात को सही साबित कर दिया. जिसमे उन्होंने कहा था कि इलाक़े में दूसरा इजरायल बनाने की साजिश की जा रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अलमालेकी ने कुर्दिस्तान को इराक़ से अलग करने कि लिए आयोजित कराए जाने वाले जनमत संग्रह का विरोध करते हुए कहा है कि हम इलाक़े में एक और इजरायल नहीं बनने देंगे.

ध्यान रहे कुर्दिस्तान बनाने को लेकर कुद्र समर्थकों को इजरायल का पूरा समर्थन है. बुधवार को, इजरायल के प्रधान मंत्री बिन्यामीन नेतन्याहू ने वोटर का उत्साह बढ़ाते हुए कहा था कि इज़राइल कुर्द लोगों के अपने स्वयं के राज्य को प्राप्त करने के वैध प्रयासों का समर्थन करता है.”

Loading...