कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने नोबेल शांति पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई को कनाडा की मानद नागरिकता देने की घोषणा की हैं. साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि मलाला देश की संसद को संबोधित करेंगी.

जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि 12 अप्रैल को 19 वर्षीय पाकिस्तानी कार्यकर्ता संसद को संबोधित करने वाली सबसे कम उम्र की व्यक्ति होंगी. कनाडा की मानद नागरिकता पाने वाली मलाला दुनिया की 6 लोगों में से एक हैं. अब तक राउल वूलनबर्ग, नेल्सन मंडेला, 14वें दलाई लामा, आंग सान सू की और अगा खान को कनाडा की मानद नागरिकता मिल चुकी हैं.

ट्रूडो ने बताया कि वह और मलाला शिक्षा के जरिए लड़कियों के सशक्तीकरण पर भी चर्चा करेंगे. उन्होंने कहा, मलाला 12 अप्रैल को यहाँ आने वाली हैं. मलाला को उस समय तालिबान के आतंकवादियों ने गोली मार दी थी जब वह स्कूल से लौट रहीं थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

महज 15 साल की उम्र में महिलाओं की शिक्षा की वकालत करने के कारण मलाला पर हमला हुआ था. मलाला का प्रारंभिक इलाज पाकिस्तान में हुआ लेकिन उसके बाद इलाज के लिए उन्हें ब्रिटेन भेजा गया था. साल 2014 के नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा गया.

Loading...