Thursday, August 5, 2021

 

 

 

यरूशलेम बिकाऊ नहीं है: तुर्की राष्ट्रपति एर्दोगन

- Advertisement -
- Advertisement -

अमेरिका की तथाकथित मध्य पूर्व शांति योजना को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने गुरुवार को दो टूक शब्दों में कहा कि यरूशलेम बिकाऊ नहीं है।  राजधानी अंकारा में 5 वें अनातोलियन मीडिया पुरस्कार समारोह में “डील ऑफ द सेंचुरी” की निंदा करते हुए एर्दोगन ने कहा “यरूशलेम हमारे लिए एक रेड लाइन है।

बता दें कि मंगलवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने नेतन्याहू के साथ व्हाइट हाउस में इजरायल-फिलिस्तीनी विवाद को समाप्त करने की अपनी योजना जारी की, जिसमें कोई भी फिलिस्तीनी अधिकारी मौजूद नहीं था। इस दौरान, ट्रम्प ने यरूशलेम को “इजरायल की अविभाजित राजधानी” के रूप में संदर्भित किया।

एर्दोगन ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की “डील ऑफ सेंचुरी” फिलिस्तीनियों के अधिकारों की अनदेखी करता है और इजरायल के कब्जे को वैध बनाने का प्रयास करता है।

उन्होने कहा, यह योजना शांति नहीं बनाएगी क्योंकि यह फिलिस्तीनियों के अधिकारों की अनदेखी करता है और इजरायल के कब्जे को वैध बनाने का प्रयास करता है। एर्दोगन ने कहा, “यरूशलेम मुसलमानों के लिए पवित्र है और ट्रम्प की तथाकथित शांति योजना यरूशलेम को इजरायल छोड़ने का प्रस्ताव कभी भी स्वीकार्य नहीं है।”

बता दें कि सभी फिलिस्तीनी गुटों ने हमास के साथ समझौते की निंदा करते हुए कहा: “यह सौदा उस कागज के लायक नहीं है जिस पर यह लिखा गया है और यरूशलेम फिलिस्तीनियों के लिए रहेगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles