japan

एक पूरा आइलैंड ही ‘गायब’ हो जाने की खबर के बाद जापान में कोहराम मचा हुआ है। होक्कैडो नाम के इलाके का ये आइलैंड को काफी दिनों से नोटिस नहीं किया था और अचानक यह लापता हो गया।

आइलैंड का नाम एसान्बे हनाकिता कोजिमा है। यह एक छोटा सा निर्वासित द्वीप या टापू हुआ करता था जिसे कोस्ट गार्ड ने 1987 के सर्वे में देखा था। मामला सामने आने के बाद प्रशासन और सरकार हरकत में है, क्योंकि इससे जापान और रूस के बीच सीमा विवाद भी हो सकता है।

द्वीप के गुम होने की खबर सबसे पहले हिरोशी शिमीजु नाम के लेखक को मिली। दरअसल वह छिपे हुए द्वीपों की एक तस्वीरों वाली किताब छापने वाले थे। इसके लिए वह उस द्वीप पर जा रहे थे। हिरोशी द्वीप के बताए गए ठिकाने पर तो पहुंच गए लेकिन वहां कुछ दिखा ही नहीं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गांववालों से पूछने पर पता चला कि काफी वक्त से वहां कोई जमीन दिखी ही नहीं।  हिरोशी को स्थानीय लोगों ने बताया कि यह आइलैंड जमीन से दिखाई नहीं देता है और न ही आसपास में मौजूद नावों से। स्थानीय लोगों ने आइलैंड के बारे में अधिकारियों से भी शिकायत की, लेकिन कोई इसे खोज नहीं सका।

जापान सरकार ने आइलैंड की तलाश में ‘रेस्क्यू मिशन’ शुरू कर दिया है. हालांकि, एक अधिकारी ने आशंका जताई है कि तूफान और बर्फबारी की वजह से आइलैंड गायब हो गया। अगर द्वीप का पता नहीं चला तो जापान को करीब 500 मीटर तक फैले प्रादेशिक समुद्री जल का नुकसान होगा।

बता दें कि द्वीप के गुम होने पर जापान-रूस का विवाद हो सकता है, क्योंकि उस उत्तरी क्षेत्र में रूस भी अपना दावा करता रहा है। अंतरराष्ट्रीय नियमों के मुताबिक, देश उस द्वीप के आसपास के पानी पर ही हक जता सकते हैं जो हाइ टाइड (ज्वार) के वक्त समुद्र से ऊपर दिखे। 1987 में हुए सर्वे में इसेबेहनाकोजिमा समुद्र से 1.4 मीटर ऊपर था जो अब नहीं है।

Loading...