इजराइल की घेराबंदी के कारण फिलिस्तीनियों को ग़रीबी और बेरोज़गारी का सामना करना पड़ रहा हैं. दिन-प्रतिदिन ग़रीबी और बेरोज़गारी के आकड़ों में वृद्धि हो रही हैं.

फ़िलिस्तीन के मानवाधिकार केंद्र की और से जारी रिपोर्ट के अनुसार, गज़्ज़ा में बेरोज़गारी की दर में 47 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. जिसकी वजह से 80 प्रतिशत निवासी अपनी रोज़मर्रा की ज़रूर भी पूरी नहीं कर पा रहे. अपनी जरूरतों को पूरी करने के लिए उन्हें बाहरी मदद की जरूरत है.

मानवाधिकार केंद्र की रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि इस्राईल द्वारा गज़्ज़ा के दस सालों से पूर्ण परिवेष्टन, फ़िलिस्तीन के इस क्षेत्र के निवासियों का आर्थिक और सामाजिक अधिकारों का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन है.

दूसरी ओर इसी तरह सितंबर 2016 में विश्व बैंक द्वारा पेश की गई रिपोर्ट के अनुसार गज़्ज़ा में बेरोज़गारी दर 43 प्रतिशत और क्षेत्र में गरीबी दर 60 प्रतिशत से अधिक है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें