इस्राईली सैनिकों ने नमाज अदा करने से रोकने के लिए मस्जिदुल अक़्सा को घेरे में लिया

माहे रमजान में फिलिस्तीनी मुसलमानों को नमाज अदा करने से रोकने के लिए इस्राईली सैनिकों ने मस्जिदुल अक़्सा को अपने घेरे में ले लिया.

मस्जिदुल अक़्सा के वक़्फ विभाग के अनुसार, ज़ायोनी शासन के सैनिकों ने मस्जिद में मौजूद नमाज़ियों को ज़बरदस्ती मस्जिद से बाहर निकाल कर मस्जिद को अपने घेरे में ले लिया है और जो लोग मस्जिद से बाहर नहीं निकले उनको अब मस्जिद से बाहर आने की भी अनुमति नहीं दे रहे हैं.

दूसरी ओर इस्राईली सैनिकों ने दावा किया है कि कुछ फ़िलीस्तीनी युवकों ने मस्जिदुल अक़्सा पर धावा बोलने वाले चरपंथी यहूदियों पर पत्थरों से हमला कर दिया था जिसके कारण कई कट्टरपंथी यहूदी घायल हो गए हैं. ज़ायोनी सैनिकों का कहना है कि अब जबतक हमला करने वाले फ़िलिस्तीनी युवकों को गिरफ़्तार नहीं कर लिया जाता तबतक मस्जिदुल अक़्सा का दरवाज़ा नहीं खुलेगा.

गौरतलब रहें कि मस्जिदुल अक़्सा पूरी दुनियाभर के मुसलमानों का तीसरा सबसे पवित्र स्थल है, आए दिन ज़ायोनी सैनिकों और चरमपंथी यहूदियों के हमलों का निशाना बनाती रहती है.

विज्ञापन