गुरुवार की शाम जॉर्डन नदी के पश्चिमी तट पर स्थित रामल्लाह शहर में एक बार फिर से इस्राईली सैनिकों का वहशी चेहरा सामने आया हैं.

इस्राईली सैनिकों ने रामल्लाह शहर के उत्तर में एक कार पर अंधाधुंध फ़ायरिंग कर एक फ़िलिस्तीनी युवक को शहीद कर दिया. इस हमलें में  3 अन्य फ़िलिस्तीनी युवा भीर रूप से घायल हो गए हैं. ये चारों फ़िलिस्तीनी नागरिक अल-जज़ून शरणार्थी कैम्प के रहने वाले थे.

इस्राईली सैनिकों का जुल्म दिन-प्रतिदिन बड़ता ही जा रहा हैं लेकिन अंतराष्ट्रीय समुदाय ने इस आतंकी पूर्ण अत्याचार पर अपनी आँखें बंद की हुई हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अक्तूबर 2015 से अब तक इस्राईली सैनिकों के हाथों शहीद होने वाले फ़िलिस्तीनियों की संख्या 290 हो चुकी है. इस्राईली सैनिक लगभग रोज़ ही फ़िलिस्तीनी नागरिकों पर अत्याचार करते हैं.

Loading...