इजरायल की पुलिस ने जेरूसलम इस्लामिक वक्फ के कार्यकर्ताओं को लगातार दो दिनों तक डोम ऑफ द रॉक के नवीनीकरण से रोक दिया। जिससे पुराने शहर में तनाव बढ़ रहा है।

यरुशलम में जार्डन वक्फ विभाग के निदेशक अज़ाम खतीब ने तेल अवीव घासन माजली में जॉर्डन के राजदूत और अम्मान में वक्फ मंत्री मोहम्मद खलीलह को इस बारे में जानकारी दी।

इज़राइली अधिकारियों का दावा है कि एक व्यक्ति द्वारा बाब अल-रहमह मस्जिद की छत को पुनर्निर्मित करने का प्रयास करने के बाद ये निर्णय लिया गया। इज़राइल ने मुसलमानों को बिना कारण के मस्जिद को खाली करने की मांग की।

मरम्मत के प्रभारी वक्फ इंजीनियर बस्साम हल्क ने कहा कि इजरायली पुलिस ने शनिवार और रविवार को रॉक के सोने से बने गुंबद पर काम करना बंद कर दिया और तत्काल बिजली के काम को भी रोक दिया।

इज़राइल का कहना है कि किसी भी नवीकरण या मरम्मत को पूर्व-अनुमोदित होना चाहिए। नवीकरण संरचनात्मक नहीं है।

अरब न्यूज़ को पता चला है कि शनिवार और रविवार को इज़राइली कार्रवाई एक अज्ञात फिलिस्तीनी के प्रयासों का के बदले में थी जिसका चेहरा ढंका हुआ था, जो लीक को रोकने के लिए सीमेंट लगाने के लिए बाब अल-रहमेह मस्जिद की छत पर चढ़ गया।

इजरायल ने मस्जिद पर किसी भी मरम्मत कार्य को मना किया है। हल्क ने कहा कि पूरे अल-अक्सा परिसर में सभी मरम्मत कार्य को भी इज़राइल द्वारा निलंबित कर दिया गया है।

मस्जिद के इंजीनियर ने जोर देकर कहा कि वक्फ के पास अल-अक्सा मस्जिद परिसर के अंदर कोई सीमेंट सामग्री नहीं है और यह शुक्रवार की छुट्टी थी जब स्टाफ काम नहीं करता था।

अल अक्सा मस्जिद के निदेशक  शेख उमर किसवानी ने संवाददाताओं को बताया कि पूरे 144 Dunum हरम अल शरीफ/अल अक्सा मस्जिद परिसर की मरम्मत इस्लामी वक्फ की सही थे और इजरायल की पुलिस अपने काम में दखल देने का कोई अधिकार नहीं है।

इजरायली पुलिस के एक प्रवक्ता ने अरब न्यूज़ को बताया कि “इस्राइली पुलिस की ज़िम्मेदारी के अधीन नहीं है।”