ज़ायोन शासन के अपोज़ीशन लीडर इस्हाक़ हर्तेज़ोग ने ज़ायोनी गठबंधन सरकार पर जारी संकट की तरफ़ इशारा करते हुए कहा है कि संसद के 61 सदस्यों ने नेनतयाहू सरकार को बर्ख़ास्त किए जाने की मांग की है।

अगर हर्तेज़ोग की यह बात सही हो कि संसद के 61 सदस्य नेतनयाहू की सरकार को बर्ख़ास्त करना चाहते हैं तो इसका अर्थ यह है कि इस्राईल में बहुत जल्द समय से पहले चुनाव होंगे।

ज्ञात रहे कि ज़ायोनी शासन के राष्ट्रपति पर वित्तीय भ्रष्टाचार और ग़ाज़ा के विरुद्ध 51 दिनों के युद्ध पर जारी रिपोर्ट और इस युद्ध में नेतनयाहू सरकार की विफलता और सरकार के गठबंधन में जारी मतभेदों के कारण दबाव है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?