पूर्व मोसाद प्रमुख ने कहा – ‘इजरायल को नहीं चाहिए शांति’

6:42 pm Published by:-Hindi News

इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद के पूर्व प्रमुख शबताई शावत ने कहा है कि इजरायल शांति नहीं चाहता है और अगर ऐसा होता तो वह फिलिस्तीनी प्राधिकरण (पीए) के साथ बहुत पहले ही शांति बना लेता।

अरब 48 की  रिपोर्ट में इज़राइली दैनिक मारीव के हवाले से शैवित ने अपनी टिप्पणी देते हुए कहा कि अगर इज़राइल शांति चाहता था तो वह आर्थिक और बुनियादी ढाँचे पर चर्चा करता।

शावित ने ये भी कहा कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पीए को एक बातचीत के भागीदार के रूप में नहीं देखते हैं और इसलिए प्राधिकरण के साथ संबंध विकसित करने से इनकार करते हैं।

उन्होंने पूछा, “क्या आप किसी इजरायली सरकार के किसी अन्य प्रमुख को जानते हैं जो फिलिस्तीनियों के साथ बात नहीं करता था?”

शैवित ने यह भी दावा किया कि नेतन्याहू ने पीए से इजरायली दक्षिणपंथी के दबाव में बोलना बंद कर दिया था, जिन्होंने दावा किया था कि अगर वह आज चर्चा करेंगे तो “उन्हें शहर के केंद्र में लिंच करेंगे”।

उन्होने कहा, हम [इजरायल] मध्य पूर्व में सबसे मजबूत हैं। उन्होंने कहा, ” मजबूत अपने लिए वही कर सकता है जो कमजोर नहीं कर सकता है […] अगर हम चाहें तो दूसरी तरफ दौड़ सकते हैं। ”

1990 के मध्य के ओस्लो समझौते के बारे मेंशावित ने कहा कि इजरायल ने दक्षिणपंथी इस समझौते को एक “पाप” के रूप में चित्रित किया है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें