ru

ru

राष्ट्रपति रूहानी ने सीरिया से दाइश के सफ़ाए को ईरान सहित क्षेत्र की जनता के लिए बहुत अच्छी ख़बर बताया।

राष्ट्रपति हसन रूहानी ने मंगलवार को तेहरान में एक समारोह में दाइश की पराजय पर वरिष्ठ नेता, सेना, आईआरजीसी और विशेष रूप से जनरल सुलैमानी और ईरानी कूटनयिकों को बधाई दी और कहा कि दाइश ऐसा आतंकवादी गुट था जिसे बड़ी शक्तियों और क्षेत्र के कुछ रूढ़ीवादी देशों ने सशस्त्र व पोषित किया।

उन्होंने कहा कि बुधवार को ईरान, तुर्की और रूस के राष्ट्रपति सीरिया सहित क्षेत्र के भविष्य पर त्रिपक्षीय बैठक में विचार विमर्श करेंगे।

ईरानी राष्ट्रपति ने अरब संघ की कार्यवाहियों पर खेद प्रकट करते हुए कहा कि अरब संघ नामक एक निर्जीव व निष्प्रभावी संगठन के सदस्य देशों के विदेश मंत्री बैठक में यह विचार करते हैं कि किस तरह यमन की जनता 2 साल से ज़्यादा समय से जारी अतिक्रमण के बावजूद इन कार्यवाहियों का जवाब दे रही है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ईरानी राष्ट्रपति ने यह सवाल करते हुए कि क्या इराक़, सीरिया और यमन की जनता अरब जगत का हिस्सा नहीं हैं? कहा कि यह कार्यवाहियां दर्शाती हैं कि आज की दुनिया में अपने पैर पर खड़ा होना और राष्ट्रीय, सैन्य, आर्थिक और खाद्य सुरक्षा की दृष्टि से ख़ुद शक्तिशाली होना ज़रूरी है।

आईआरजीसी की क़ुद्स ब्रिगेड के कमान्डर जनरल सुलैमानी ने मंगलवार को वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़्मा के नाम संदेश में दाइश के अंत का एलान किया।

Loading...