अगले हफ्ते न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र की आम सभा से इतर भारत और पाकिस्तान के विदेशमंत्रियों की संभावित मुलाक़ात के रद्द होने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने प्रधानमंत्री मोदी पर भी निशाना साधा।

इमरान खान ने ट्वीट कर कहा, ‘शांति वार्ता के लिए मेरी पेशकश पर भारत की नकारात्मक प्रतिक्रिया से निराश हूं। हालांकि, मैंने अपनी पूरी जिंदगी बड़े दफ्तर में विराजमान ऐसे छोटे लोगों को देखता आया हूं जिनके पास दूरदर्शिता नहीं है और बड़ी तस्वीर देखने की काबिलियत नहीं है।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर शांति वार्ता बहाल करने और संयुक्त राष्ट्र जनरल असेंबली से पहले विदेश मंत्रियों की मुलाकात का प्रस्ताव दिया था। भारत ने इस प्रस्ताव स्वीकार कर लिया था। हालांकि बाद मे इस प्रस्ताव को रद्द कर दिया गया।

modi

इमरान खान ने अपने पत्र में लिखा था कि पाकिस्तान आतंकवाद पर बात करने के लिए तैयार है। उन्होंने पत्र में लिखा था, ‘व्यापार, जनता से जनता का संपर्क, धार्मिक यात्राएं और मानवता कुछ ऐसे मुद्दे हैं जिन पर चर्चा के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं। भारत और पाकिस्तान दोनों शांति की इच्छा रखते हैं और इसके लिए मैं विदेश मंत्रियों की वार्ता का प्रस्ताव रखता हूं।’

इससे पहले, शुक्रवार को पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विदेश मंत्री स्तर की बातचीत रद्द होने पर निराशा जताई थी। उन्होंने कहा था कि ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत ने सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं दी। भारतीयों ने एक बार फिर शांति का एक अवसर बेकार कर दिया।  क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए बैठकर बात करना महत्वपूर्ण होता है।’

Loading...