अमेरिकी सैनिकों की इराक में उपस्थिति का विरोध में अब इराक में भी शुरू हो गया है. एक इराक़ी सांसद फ़िरदौस अलअव्वादी ने देश में मौजूद अमरीकी सैनिकों को तत्काल निकाल देने की मांग की है.

अमेरिकी हमले में 40 स्वयंसेवी की मौत को लेकर उन्होंने कहा कि इस तरह के हमले आतंकियों को बचाने के लिए किये जा रहे है. धयान रहे सोमवार को इराक़ और सीरिया बॉर्डर पर “सैयदुश्शोहदा” बटालियन पर अमेरिका के हवाई हमले में  के कम से कम 40 स्वयंसेवी मारे गए थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि थोड़े-थोड़े समय में इराक़ के स्वयंसेवी बल, “हश्दुश्शाबी” पर इस प्रकार के अमरीकी हमलों से पता चलता है कि अमरीकी, आईएस सहित अन्य आतंकवादी गुटों को सुरक्षा प्रदान कर रहा हैं.

फ़िरदौस अलएवादी ने यह भी कहा कि इराक़ को वभाजित करने के लिए अमरीका, इन आतंकवादी गुटों को प्रयोग कर रहा है.

गौरतलब रहें कि इराक़ के प्रधानमंत्री हैदर अलएबादी ने पहले ही कह चुके है कि तथाकथित अन्तर्राष्ट्रीय गठबंधन को इराक़ के भीतर कहीं पर भी स्वेच्छा से हमले करने का अधिकार नहीं है.

Loading...