म्यांमार के राखिने में एक बार फिर से बड़े पैमाने पर हिंसा शुरू हो चुकी है. अब तक म्यांमार सेना की कार्रवाई में 100 से ज्यादा लोगों की मौते हो चुकी है. जिनमे ज्यादातर रोहिंग्या मुसलमान है.

रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा को लेकर ईरान ने चिंता जताई है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम क़ासेमी ने कहा कि म्यांमार की सरकार को इस देश के मुसलमानों के अधिकारों के हनन को रोकना चाहिए.

उन्होंने म्यांमार की सरकार से कहा कि वह देश में शांतिपूर्ण जीवन व शांति स्थापना के लिए युक्तिपूर्ण और सही नीतियों के साथ क़दम उठाए.

ध्यान रहे राखिने में एक बार फिर से म्यांमार सरकार ने सैन्य अभियान शुरू किया है. जिसमे म्यांमार सरकार ने रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ खुली छुट दी हुई है.

रोहिंग्या मुस्लिमों को देखते ही गोली मारी जा रही है. इसी के साथ बौद्ध चरमपंथियों की भी हिंसा जारी है. हाल ही में संयुक्त राष्ट्र संघ ने कहा था कि रोहिंग्या मुसलमान अत्यंत ख़तरनाक हालात में जीवन बिताने के लिए मजबूर हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?