Sunday, January 23, 2022

Video: इराक में अमेरिकी ठिकानों पर दो दर्जन मिसाइले दाग बोला ईरान – अभी तो सिर्फ शुरुआत है…

- Advertisement -

शीर्ष सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या के बाद ईरान ने इराक में अमेरिकी सेना के द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे दो एयरबेस पर करीब दर्जनभर मिसाइलें दागी हैं. पेंटागन का कहना है कि नुकसान का आकलन किया जा रहा है. ये हमले अल असद और इरबिल के दो सैन्य ठिकानों पर हुए हैं.

मिसाइल हमले के बाद पेंटागन ने ट्वीट कर कहा,  ‘7 जनवरी को ईरान ने इराक में अमेरिकी सेना और गठबंधन सेना के एयरबेस पर एक दर्जन से अधिक बैलिस्टिक मिसाइलों दागी हैं. यह स्पष्ट है कि इन मिसाइलों को ईरान ने दागा है. ईरान ने अल-असद और इरबिल में अमेरिकी सेना द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे एयरबेस को निशाना बनाया गया है.’

वहीं ईरान की रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स कॉर्प्स के कमांडर इस्माइल कानी ने कहा कि इराक में अमेरिकी ठिकानों पर हमला तो सिर्फ पहला कदम है और तेहरान अमेरिकी सैनिकों को नहीं बख्शेगा. ईरान की सरकारी टीवी चैनल ने रिवॉल्यूशनरी गार्ड के कमांडर के बयान को प्रसारित किया.

कमांडर ने कहा, आज हुआ मिसाइल हमला सिर्फ शुरुआत भर है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को मध्य-पूर्व क्षेत्र से अपनी सेना को तुरंत हटा लेना चाहिए और उन्हें हमारी पहुंच के भीतर बिल्कुल नहीं छोड़ना चाहिए. बता दें कि ईरान की संसद ने मध्य-पूर्व में अमेरिकी फौज को आतंकवादी घोषित कर दिया है.

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हमले के बाद ट्वीट किया, ऑल इज वेल, ईरान से इराक स्थित दो सैन्य ठिकानों को मिसाइलें दागी गईं. इस हमले में हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है. अभी तक सब अच्छा है. हमारे पास दुनिया की सबसे ताकतवर और हथियारों से लैस सेना है, मैं कल सुबह इस पर बयान जारी करूंगा.

ईरान की रिवॉल्यूशनरी गार्ड ने इजरायल समेत अमेरिका के क्षेत्रीय सहयोगियों को भी हमले की चेतावनी दी है. ईरान की मीडिया के मुताबिक, इन देशों को आगाह किया गया है कि अगर उन्होंने तेहरान के खिलाफ किसी हमले के लिए अपनी जमीन का इस्तेमाल करने दिया तो वह इसका करारा जवाब देगा.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles