ईरान की रेड क्रिसेंट सोसाइटी के प्रमुख ने बताया है कि रोहिंग्या मुसलमानों के लिए ईरान की मानवताप्रेमी सहायता की दूसरी खेप सोमवार को पहुंचेगी।

रोहिंग्या मुसलमानों के लिए ईरान की पहली सहायता खेप शुक्रवार को बांग्लादेश पहुंच चुकी है। ईरान की रेड क्रिसेंट सोसाइटी के प्रमुख मुर्तज़ा सलीमी ने शनिवार को बताया कि दूसरी खेप में जिसका वज़न 160 टन है, खाद्य पदार्थ, दवाएं और बुनियादी आवश्यकता की वस्तुएं शामिल हैं। उन्होंने बताया कि पहली खेप बांग्लादेश के उस क्षेत्र में पहुंचा दी गई है जहां रोहिंग्या शरणार्थियों को रखा गया है।

मुर्तज़ा सलीमी ने बताया कि सहायता खेप के साथ ही एक टीम भी बांग्लादेश भेजी गई है जो वहां उस क्षेत्र का निरीक्षण करेगी जहां रोहिंग्या शरणार्थियों को रखा गया है। उन्होंने बताया कि यह टीम शरणार्थियों के लिए अस्थायी कैम्प और मोबाइल अस्पताल बनाने के लिए उचित स्थान की पहचान करेगी। ईरान की रेड क्रिसेंट सोसाइटी के प्रमुख ने बताया कि ईरान की यह टीम बांग्लादेश के कई सांसदों से भी मुलाक़ात और बातचीत करेगी। म्यांमार की सेना द्वारा राख़ीन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों पर किए जा रहे भयावह और अमानवीय हमलों के कारण हज़ारों लोग हताहत और घायल हुए हैं जबकि चार लाख से अधिक बेघर हो गए हैं जिनमें से अधिकतर ने बांग्लादेश में शरण ली है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?