इस्लामी क्रांति के सर्वोच्च नेता हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई म्यांमार में जुल्मों-सितम के सताए हुए रोहिंग्या मुस्लिमों की सहयता के लिए आगे आए.

तसनीम न्यूज़ एजेंसी के अनुसार, उन्होंने शरणार्थी रोहिंग्या समुदाय की सहायता के लिए ड़ेढ़ करोड़ रूपये से अधिक आवंटित किये हैं.  ख़ामेनई ने म्यांमार के पीड़ित रोहिंग्या समुदाय की सहायता के लिए 10 अरब रियाल आवंटित किये हैं. जिनका भारतीय मूल्य करीब 65 लाख रूपये है.

ध्यान रहे 25 अगस्त के बाद से राखिने में म्यांमार सेना और बौद्ध चरमपंथियों की हिंसा के चलते लाखों की तादाद में रोहिंग्या मुसलमान बांग्लादेश का रुख कर चुके है.

सयुंक्त राष्ट्र के अनुमान के मुताबिक़ रोजाना करीब 10000 रोहिंग्या मुस्लमान बांग्लादेश आ रहे है. वहीँ दूसरी और बांग्लादेश के कोक्स बाजार में शरण लेने वाले रोहिंग्याओं की तादाद 7 लाख तक पहुँच चुकी है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?