hajj11

ईरान और सऊदी अरब के रिश्ते हमेशा ही तल्ख रहते है। बावजूद ईरान ने बड़ा फैसला लेते हुए 50 टन दवाईयां सऊदी अरब भेजने का फैसला किया है। ये दवाईयां हाजियों के लिए भेजी जा रही है।

ये दवाईयां डायबटीज़ और ब्लड प्रेशर समेत कई बीमारियों की है। जो दुनिया भर से आने वाले हाजियों के इस्तेमाल मे आएगी। ईरान की हज और ज़ियारत संस्था ने दवाईयां भेजने की तैयारिया शुरू कर दी है।

दवाईयों के अलावा, ईरान की और से हज के दौरान मक्के में अस्थायी अस्पताल और चिकित्सा केन्द्र भी स्थापित करेगी। जहां हाजियों को मुफ़्त में चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराई जाएगी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ईरान की हज और ज़ियारत संस्था के प्रबंधक अज़ीमी का कहना है कि हाजियों के लिए सऊदी अरब 50 टन दवाईयां भेजी जा रही हैं। इसके अलावा ईरान 500 महिला एवं पुरुष डॉक्टरों को भी सऊदी अरब भेज रहा है।

ग़ौरतलब है कि इस साल 85200 ईरानी नागरिक हज पर जायेंगे। सऊदी अरब ने भी हाजियों के इस्तकबाल के लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

Loading...