Monday, October 18, 2021

 

 

 

परमाणु समझौते पर ईरान को मिला यूरोपीय संघ का साथ, ट्रम्प को सुनाई खरी-खरी

- Advertisement -
- Advertisement -

eu zastava 33 702x336

परमाणु समझौते को लेकर अमेरिका और ईरान में ठनी हुई है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अब परमाणु समझौते से खुद को अलग करने की बात कही है. ऐसे में दुनिया भर में उनकी आलोचनाओं का दौर शुरू हो चूका हैं.

यूरोपीय संघ(ईयू) ने ट्रम्प की इस रवैये की तीखी आलोचना की है. यूरोपीय संघ विदेश नीति प्रमुख फेड्रिका मोघरिनी ने कहा कि ईयू ईरानी परमाणु समझौते को पूरी तरह जारी रखेगा.

मोघरिनी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “यह द्विपक्षीय समझौता नहीं है. यह किसी एक देश से संबंध नहीं है और कोई एक देश इस समझौते को निरस्त नहीं कर सकता. हम ऐसे परमाणु समझौते को, जो अच्छे से काम कर रहा है, उसे निरस्त करने का खतरा नहीं उठा सकते हैं.”

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि आईएईए ने ईरान की परमाणु प्रतिबद्धताओं की जांच के लिए आठ बार निरीक्षण किया था. मेघरिनी ने कहा, “राष्ट्रपति ट्रंप की आज की घोषणा के बाद यह परमाणु समझौता अब अमेरिकी कांग्रेस में चला गया है. जीसीपोओए कोई घरेलू मुद्दा नहीं है, बल्कि यह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का प्रस्ताव है.

मोघरिनी ने कहा, यूरोपीय संघ लगातार ईरानी परमाणु समझौते और सभी देशों द्वारा इसके सभी प्रावधानों को पूर्ण और सख्ती क्रियान्वयन को पूरा समर्थन देता रहेगा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles