सीरिया पर इस्राईल की और से हो रहे लगातार हमले को लेकर ईरान ने कहा कि इन हमलों के पीछे इस्राईल का मकसद आतंकियों की मदद करना हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम क़ासेमी ने कहा कि इस बात में कोई शक नहीं है कि ये हमले, जो सीरिया की क़ानूनी सरकार को कमज़ोर करने के उद्देश्य से किए जा रहे हैं, संयुक्त राष्ट्र संघ के सदस्य एक स्वाधीन देश की संप्रभुता का उल्लंघन और विश्व शांति व सुरक्षा के ख़िलाफ़ हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं विशेष कर संयुक्त राष्ट्र संघ से मांग की कि वह क्षेत्र व विश्व की सुरक्षा व स्थिरता को बिगाड़ने वाले इस्राईल के इन हमलों के प्रति चुप न रहे और इन्हें रुकवाने के लिए हर संभव प्रयास करे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब रहें कि इस्राईल ने गुरुवार को दमिश्क़ हवाई अड्डे के दक्षिण पश्चिम में स्थित सीरियाई सेना के एक अड्डे पर कई मीज़ाइल फ़ायर किए थे. वहीँ 21 अप्रैल को भी इस्राईल की वायु सेना ने सीरिया के दक्षिणी प्रांत क़ुनैतरा में सीरियाई सेना के एक ठिकाने पर दो राॅकेट फ़ायर किए थे.

Loading...