ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने रविवार को सऊदी अरब के साथ संबंध बहाली पर जोर देते हुए कहा कि वे ईरान सशर्त  साथ अपने संबंधों में सुधार के लिए तैयार है.

रूहानी ने संसदीय बैठक में सऊदी अरब के सामने दो प्रमुख शर्त रखते हुए कहा कि संबंध बहाली के लिए सबसे पहले इजरायल के साथ सभी संबंध खत्म करने होंगे. वहीँ दूसरी शर्त के रूप में यमन पर बमबारी करनी होगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

रूहानी ने कहा सऊदी अरब इन दोनों शर्तों को मान लेता है तो ईरान को सऊदी अरब के साथ संबंध सुधारने में कोई समस्या नहीं है.

ध्यान रहे सऊदी अरब ने एक शिया मौलवी को फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद ईरान में सऊदी अरब के राजनयिक मिशनों पर हमले के बाद विरोधस्वरूप 2016 में ईरान के साथ राजनयिक संबंध तोड़ दिए थे.

साथ ही पिछले महीने यमन के हौती विद्रोहियों द्वारा बैलिस्टिक मिसाइल से रियाद में एअरपोर्ट को निशाना बनाये जाने सऊदी अरब और ईरान के बीच तनाव बढ़ गया था. हालांकि सऊदी अरब ने इस मिसाइल को मार गिराया था.

Loading...