ईरान के विदेश मंत्री मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने सऊदी अरब के साथ बातचीत पर जोर देते हुए कहा कि ईरान हमेशा से सऊदी अरब के साथ बातचीत के लिए तैयार रहा है.

उन्होंने कहा, ईरान हमेशा से सऊदी अरब के साथ बातचीत के लिए तैयार रहा है, साथ ही उन्होंने चिंता जताई कि सऊदी अरब का रवैया हमेशा इसके खिलाफ ही रहा. उन्होंने कहा, सऊदी अरब ने हमेशा क्षेत्र में तनाव पैदा कर हित प्राप्त करने की कोशिश की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ज़रीफ़ ने कहा कि ईरान यह मानता है कि सऊदी अरब ने अब तक विनाशकारी क्षेत्रीय नीति अपनाई है जिसका नुक़सान ख़ुद इस देश को भी उठाना पड़ा है.

ज़रीफ़ का कहना था कि सऊदी अरब अपनी नीतियों पर पुनरविचार करे इससे रियाज़ के राष्ट्रीय हितों को फ़ायदा पहुंचेगा. हालांकि सऊदी अरब पहले ही ईरान की इस मांग को ठुकरा चूका है.

जवाद ज़रीफ़ ने कहा कि ईरान चाहता है कि पश्चिमी एशिया का पूरा क्षेत्र शांत, स्थित, एकजुट और मज़बूत बने, ईरान इस स्थिति को अपने राष्ट्रीय हितों और क्षेत्र के हितों के अनुरूप देखता है

Loading...